Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्यक्राइमग्रामीण भारतताज़ा खबरप्रादेशिक

दमोह : कोरोना कर्फ्यू उल्लंघन के तहत प्रशासन ने वसूला 29 लाख रुपये का जुर्माना, 16 हजार से अधिक लोगों के कटे चालान

दमोह पुलिस ने काटे चालान
दमोह जिले में कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध जिला प्रशासन लगातार कार्रवाई कर रहा है. अब तक मास्क नहीं लगाने वाले 11827 व्यक्तियों के विरूद्ध कार्रवाई करते हुए प्रशासन ने 13 लाख 37 हजार 900 रूपये का राजस्व वसूल किया है. इसमें दमोह में 5299, हटा में 1142, पथरिया में 1604, तेंदूखेड़ा 901, बटियागढ़ में 858, पटेरा में 1095 तथा जबेरा में 928 व्यक्तियों से जुर्माना वसूला गया है.

दमोह : मध्यप्रदेश सहित देश में कोरोना संक्रमण के मामलों आयी गिरावट के केंद्र के साथ राज्य सरकारों ने अनलॉक प्रक्रिया शुरू की है. सरकार ने कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत शहरों को अनलॉक करने का फैसला लिया था. सरकार के इस फैसले से आम लोगों के साथ व्यापारियों ने राहत की सांस ली थी. लेकिन कुछ लोगों ने सरकार के अनलॉक के फैसले का गलत इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है. लोग बेवजह सड़कों पर घूम रहे हैं और मास्क का उपयोग भी नहीं कर रहे हैं. लोग कोविड-19 प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ा रहे हैं. ऐसे लोगों से अब प्रशासन सख्ती ने निपट रहा है.

बात दमोह जिले कि की जाए तो जिले में कोविड-19 प्रोटोक़ल का उल्लंघन करने वाले 11827 लोगों का चालान काटा जा चुका है. जिला प्रशासन के निर्देश पर जारी इस कार्रवाई में प्रशासन को 13 लाख 37 हजार 900 रूपये राजस्व प्राप्त हुआ है. सबसे ज्यादा चालानी कार्रवाई दमोह शहर में की गई है. दमोह शहर में अब तक 5299 लोगों के चालान काटे गए हैं. इसके बाद पथरिया ब्लॉक में सबसे ज्यादा 1604 लोगों का कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत चालान काटा गया है. इसके अलावा हटा में 1142, तेंदूखेड़ा 901, बटियागढ़ में 858, पटेरा में 1095 तथा जबेरा में 928 व्यक्तियों के चालान काटे गए हैं.

जिले में 4934 वाहनों के काटे चालान

जिला प्रशासन के निर्देशन में कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले वाहनों पर भी कार्रवाई की जा रही है. जिले में ऐसे 4934 लोगों पर कार्रवाई की जा चुकी है जिन्होंने कोरोना कर्फ्यू के नियमों का उल्लंघन किया है. प्रशासन ने वाहनों पर कार्रवाी करते हुए 15 लाख 85 हजार 180 रूपये का जुर्माना भी वसूला है.

लोग हो रहे परेशान

जिला प्रशासन की इस कार्रवाई से लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है. लोगों का आरोप है कि पुलिस विभाग के लोग रोजोना चालान काट रहे हैं. कोरोना काल में लोगों का रोजगार छिन गया है, व्यापार में भी घाटा लगा है, ऐसे में प्रशासन की ऐसी कार्रवाई आग में घी का काम कर रही है. पुलिस विभाग की कार्रवाई से परेशान लोग अब उनकी आलोचना करने लगे हैं.

Related posts

आलमपुर पंचायत ने तीन वर्ष में एक करोड़ रूपये मजदूरो पर किये खर्च, फिर भी पलायन करने पर मजदूर विवश क्यों..?

Nishpaksh

जूते की लालसा लिए चुनावी मैदान में राहुल के चचेरे भाई..चंदू चाचा के पुत्र से भी मिल रही कड़ी टक्कर

Nitin Kumar Choubey

राष्ट्रपति को जबेरा आने का न्यौता

Nishpaksh

Leave a Comment