Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्यग्रामीण भारतताज़ा खबरप्रादेशिकराजधानी

पंचायत सचिव, जीआरएस के कार्य पर वापस नहीं लौटने पर वित्तीय अधिकार लिए जाएंगे वापस – कलेक्टर

nishpaksh samachar

मध्यप्रदेश पंचायत एवं ग्रामीण विकास सयुक्त मोर्चा के आवाहन पर लगातार अनिश्चितकालीन कलम बंद हड़ताल पर कलेक्टर सख्त हुए उन्होंने वित्तीय अधिकार वापिस लेने की बात कही साथ ही राजस्व विभाग के अधिकारियों को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा माफिया मुक्त मध्य प्रदेश के लिए अभियान चलाने के निर्देश दिए गए है।

निष्पक्ष समाचार सागर – कलेक्टर दीपक सिंह ने विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की मंगलवार को समीक्षा की। बैठक में उन्होंने पंचायत सचिवों एवं जीआरएस की हड़ताल के कारण प्रभावित हो रहे कार्यों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि ऐसे सभी पंचायत सचिव तथा जीआरएस जो कार्य पर उपस्थित नहीं हो रहे हैं उनके वित्तीय अधिकार वापस लिए जाएंगे। साथ ही हड़ताल के कारण प्रभावित हो रहे कार्यों का दायित्व अन्य अधिकारियों को सौंपा जाए।

उन्होंने कहा कि, सामान्य प्रशासन द्वारा स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि, हड़ताल अवैध है। अतः इस प्रकार कार्य के प्रति लापरवाही बरतना गलत है। उन्होंने समस्त राजस्व अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि, वे अनुपस्थित पंचायत सचिव और जीआरएस के खिलाफ कार्रवाई करते हुए अवैतनिक अवकाश का आदेश जारी करें। इसी प्रकार पटवारी के अनुपस्थित होने पर आर आई अथवा नायब तहसीलदार के द्वारा संबंधित कार्य किया जाये।

कलेक्टर सिंह ने कहा कि किसी भी अधिकारी/ कर्मचारी की अनुपस्थिति के कारण शासकीय कार्यों की गति धीमी नहीं पड़नी चाहिए। जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समय पर मिलना अत्यावश्यक है। अतः यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी परिस्थिति में कार्य प्रभावित न हो।

सभी तरह के माफियाओं पर भी करें कार्रवाई – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा माफिया मुक्त मध्य प्रदेश के लिए अभियान चलाने के निर्देश दिए गए है। सागर को भी माफिया मुक्त करने के लिए समस्त प्रकार के माफियाओं पर प्रभावी कार्यवाही करें। उक्त निर्देश कलेक्टर दीपक सिंह ने समस्त अनु विभागीय अधिकारियों, तहसीलदारों को दिए।

कलेक्टर सिंह ने निर्देश दिए कि मध्य प्रदेश शासन के निर्देश पर समस्त प्रकार के माफियाओं जिसमें अवैध उत्खनन, खनिज, अतिक्रमण ,मिलावट एवं भू माफियाओं पर प्रभावी कार्रवाई करें। उन्होंने निर्देश दिये कि कार्रवाई इस प्रकार हो कि माफियाओं के मन में खौफ पैदा हो सके।

उन्होंने कहा कि कार्रवाई के साथ तत्काल पुलिस कार्रवाई भी की जावेगी। समस्त अधिकारी अपने स्तर पर माफियाओं को चिन्हित करें और पुलिस बल के साथ प्रतिदिन कार्रवाई सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि माफियाओं से सागर को मुक्त करने के लिए विशेष कार्ययोजना भी तैयार करें और कार्रवाई करें।

Related posts

टीनशेड से ढाँक दी लाखो रूपये की सोलर प्लेट्स, जिला चिकित्सालय का नया कारनामा

Nitin Kumar Choubey

लापरवाही से बस चलाने वाले आरोपी ड्राईवर को 1 वर्ष की सजा

Nishpaksh

25 सालों से एक ही कॉलेज में पदस्थ है अनेक प्रोफेसर

Nishpaksh

Leave a Comment