Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्यक्राइमग्रामीण भारतघटनाक्रमताज़ा खबरनारद की नज़रप्रादेशिकराजनीति

EX MLA राहुल सिंह का दिया भवन गिराकर सामग्री को किया नीलाम, अजय टंडन ने की शिकायत

Nishpaksh Samachar

दमोह- तत्कालीन विधायक राहुल सिंह ने अपने कार्यकाल में विधायक निधि मद से क्षेत्र के अनेक कार्य के लिए पैसा जारी किया था। यह अलग बात है कि पैसा जारी करने के बाद कार्य की स्तिथि जानने की इन्होंने सुध नही ली और उस राशि का बंदरबाट हो गया। लेकिन अब वर्तमान विधायक अजय टंडन ने भ्रष्टाचार करने वालों को सुधारने का बीढा उठा लिया और जांच के लिए विभागों को लिख रहे हैं।

Read also – भारतीय जनता पार्टी के नेता बेलगाम हो गये -मनु मिश्रा

दमोह के पूर्व विधायक राहुल सिंह ने विधायक निधि से दमोह जनपद की अधरौटा पंचायत को वर्ष 2020 में ढाई लाख रुपए हरिजन मुहल्ला में सामुदायिक भवन बनाने दिए थे। सरपंच पर उक्त भवन गिराकर उसकी सामग्री को नीलम कर देने का आरोप है।

दमोह विधायक अजय टंडन ने आरोप लगाया है कि सरपंच ने विधायक निधि मद से ढाई लाख रुपए का सामुदायिक भवन को एक साल के भीतर ही गिराकर इसकी सामग्री को नीलाम कर दिया। जिसकी जांच ले लिए अजय टंडन ने एक पत्र सीईओ जनपद पंचायत दमोह को 27 जुलाई को दिया था। खाश बात यह है कि जनपद पंचायत सीईओ ने इस मामले की रिपोर्ट बनाकर जिला पंचायत को भेज दी है और इधर दोषी सरपंच सचिव तथा उपयंत्री अभी भी मामले में गुणाभाग करने में लगे हैं। भवन को दूसरी जगह बनाने की जुगत लगा रहे हैं। ताकि किसी तरह मामले को सुलझा लिया जाये।

Read also – भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन को लेकर गंभीर नही दिख रहे सरकारी विभाग 

अगर सरकारी आंकड़ों की माने तो वर्ष 2018–19 ने तत्कालीन दमोह विधायक राहुल सिंह ने विधायक मद से जनपद क्षेत्र की 88 पंचायतों में एक करोड़ से अधिक राशि से 65 कार्य स्वीकृत किए थे, इनमें से मात्र 10 कार्य ही पूर्ण हुए जबकि 90 फीसदी राशि को खर्च कर दिया गया या यूं कहे कि बंदरबांट कर लिया गया।

Read also – केंद्रीय मंत्री के खास शिवचरण पर भ्रष्टाचार के आरोप, 40 की जगह 91 लाख में बनाई 2.5 KM लंबी सड़क

इसी तरह वर्ष 2019–20 में दमोह विधानसभा की 89 पंचायतों में 36 कार्य के लिए भी एक करोड़ से अधिक राशि विधायक निधि मद से दी गई लेकिन मात्र चार काम ही पूर्ण हो सके और पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी 90 फीसदी राशि को खर्च कर दिया गया। इसी तरह के अनेक कार्य नगर पालिका क्षेत्र में भी किए गए हैं। जनपद के हाल देखने के बाद लगता है कि नगर पालिका क्षेत्र में भी विधायक निधि का यही हाल हुआ होगा.!

Read also – बुंदेलखंड : केंद्रीय मंत्री के लोकसभा क्षेत्र का हाल, नाले के पानी से प्यास बुझाने को मजबूर हुए ग्रामीण

सांसद हो या विधायक इनको सांसद निधि और विधायक निधि अपने क्षेत्र के विकास के लिए दी जाती है ताकि सरकारी योजनाओं के अलावा भी जनप्रतिनिधि अपने निर्वाचन क्षेत्र में इस निधि का उपयोग कर सकें। लेकिन दमोह जिले में सांसद निधि के खर्च में हुई गड़बड़ी के बाद विधायक निधि के मामले भी सामने आने लगे हैं।

Read also – अफसरशाही पर दमोह विधायक ने बयां किया दर्द..जन चौपाल में जन सुनवाई पर उठाये सवाल..!

यहां बता दें कि विधानसभा चुनाव 2018 में इस पंचायत से कांग्रेस के राहुल सिंह को भाजपा के जयंत मलैया से 354 वोट
अधिक मिले थे। तत्कालीन कांग्रेस विधायक राहुल सिंह द्वारा पार्टी बदले जाने पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस के अजय टंडन को भी भाजपा के राहुल सिंह से 400 वोट अधिक मिले थे।

Related posts

भव्यता से निकला चल समारोह

Nishpaksh

कटनी बायपास में बड़ा हादसा, 4 लोगों की मौत

Nishpaksh

Hanuman Janmotsav 2021: कल है चैत्र पूर्णिमा और हनुमान जयंती, जानें पूजा का शुभ मुहूर्त और विधि

Nishpaksh

Leave a Comment