Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्यक्राइमग्रामीण भारतघटनाक्रमताज़ा खबरप्रादेशिक

शमशान घाट में लकड़ी नहीं मिली तो बिना दाह संस्कार के शव वापस ले गए कर्मचारी, अधिकारी की सफाई परिजनों का कर रहे थे इंतजार

पथरिया नगर के एक वार्ड में रहने वाली वृद्ध महिला को शनिवार को पथरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया था, जहां महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी. जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई. इसके बाद प्रशासन की लापरवाही और बदइंतजामी की हकीकत सामने आती है. दमोह रोड स्थित नगर के सबसे बड़े शमशान घाट पर लकड़ी तक की व्यवस्था प्रशासन द्वारा नहीं की गई थी जिस वजह से नगर परिषद के कर्मचारी शव को वगैर दाह संस्कार के वापस सामुदायक स्वास्थ्य केंद्र ले जाते हैं.

पथरिया- इंसानियत को शर्मसार कर देनी वाली एक तस्वीर पथरिया से सामने आई है जहां पर कोरोना से मौत के बाद प्रशासन शव के दाह संस्कार की व्यवस्था तक नहीं कर पाया. पथरिया में शनिवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एक महिला की कोरोना से मौत हो जाती है. जिसके बाद शव को दाह संस्कार के लिए दमोह रोड स्थित शमशान घाट भेज दिया जाता है. लेकिन शमशान पर लकड़ियों की व्यवस्था ना होने की वजह से नगर परिषद के कर्मचारी शव को वापस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाते हैं. गौरतलब है कि सरकार की गाइडलाइन के अनुसार कोविड से होने वाली मौत के शवों का अंतिम संस्कार बड़ी ही सावधानी से किया जाता है ताकि संक्रमण को रोका जा सके.

नगर के एक वार्ड में रहने वाली वृद्ध महिला को शनिवार को पथरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया था, जहां महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी. जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई. महिला की मौत के बाद शव को शव वाहन की मदद से नगर परिषद के कर्मचारी शमशान घाट ले जाते हैं. जहां पर प्रशासन की लापरवाही और बदइंतजामी की हकीकत सामने आती है. दमोह रोड स्थित नगर के सबसे बड़े शमशान घाट पर लकड़ी तक की व्यवस्था प्रशासन द्वारा नहीं की गई थी जिस वजह से नगर परिषद के कर्मचारी शव वाहन को वापस सामुदायक स्वास्थ्य केंद्र ले जाते हैं.

इस पूरे मामले में एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें शव वाहन के साथ शमशान घाट में मौजूद एक कर्मचारी फोन पर किसी से बात करते हुए कह रहा कि यहां किसी भी प्रकार की कोई व्यवस्था नहीं है, ना डॉक्टर ने कोई पर्चा लिखकर दिया है हम लोग क्या करें. और इसके बाद वह शमशान घाट से शव वाहन लेकर वापस चला जाता है. वहीं मामले में सफाई देते हुए नगर परिषद के सीएमओ प्रेम सिंह ने कहा कि प्रशासन मृत महिला के परिजनों का इंतजार कर रहा था ताकि उनकी उपस्थिति में दाह संस्कार किया जा सके. आखिरकार परिजनों की उपस्थिति में शव का दाह संस्कार किया गया.

Related posts

निखरी और बेदाग त्वचा के लिए इन सौंदर्य वर्धक उबटन का करें इस्तेमाल

Admin

पीएम केयर फंड से देशभर में 551 नए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जाएंगे

Nishpaksh

भोपाल मध्य प्रदेश। एक्ट्रेस रवीना टंडन का वाइल्ड लाइफ लव, कहा-हमने कबूतर, उल्लू और चमगादड़ पाले।

Nishpaksh

Leave a Comment