Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्यक्राइमताज़ा खबरराजनीति

केंद्रीय मंत्री के खास शिवचरण पर भ्रष्टाचार के आरोप, 40 की जगह 91 लाख में बनाई 2.5 KM लंबी सड़क

Scam in government schems

दमोह- सांसद निधि से बटियागढ़ जनपद में हुये विकास कार्यों में भारी अनियमितता बरती गई । निर्माण कार्यों के लेन देन में लाखों रूपए की हेरा फेरी सामने आ रही है । सासंद निधि से हरदुआजामशा गांव में कराए जा रहे विकास कार्यों पर ग्रामीणों ने भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं । ग्रामीणों के अनुसार सांसद निधि से स्वीकृत विकास कार्य के तहत गांव में कराये गए बजरी सड़क निर्माण, पुलिया निर्माण और अन्य विकास कार्य में भारी भ्रष्टाचार किया गया है । ग्रामीणों का आरोप है की अधिकारियों ने विकास कार्यों के लिये खर्च की गई कुल राशि से अधिक राशि का भुगतान किया है । यह भुगतान केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के खास माने जाने वाले एवं दमोह जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल की निर्माण एजेंसी को किया गया है ।

ढाई किलोमीटर सड़क को 5 हिस्सों में बांटा
हरदुआजामशा ग्राम पंचायत स्थित गौ अभ्यारण के लिए पंहुच मार्ग मगरोन ग्राम पंचायत से होकर जाता है। यहां करीब ढाई किलोमीटर के पंहुच मार्ग के लिए साल 2016 में सांसद निधि से बजरी रोड स्वीकृत हुआ था । जिसे अधिकारियों ने 553 वर्गमीटर के पांच भागों में बांट दिया और प्रत्येक हिस्से की लागत 15 लाख रुपये तय करके राशि भी स्वीकृत करा दी गई । और रास्ते में पड़ने वाली पांच पुलियों के निर्माण के लिए अलग से 16 लाख 50 हजार रूपए स्वीकृत करा दिए गए । वहीं जनपद पंचायत सीईओ की माने तो ढाई किलोमीटर सड़क निर्माण का अधिकार पंचायत को नहीं और एक ही सड़क को पांच अलग-अलग हिस्सों में बांटा नहीं जा सकता ।

इन जगहों पर बनाई गई सड़क
ढाई किलोमीटर लंबाई के गौ अभ्यारण्य पंहुच मार्ग को मगरोन और हरदुआजामशा ग्राम पंचायत ने मिलाकर बनाया है । जिसे पांच हिस्सों में बांटा गया है। इसमें सड़क का पहला हिस्सा बीरबल भाईजान के घर से सुकई लोधी के खेत तक, सड़क का दूसरा हिस्सा सुकई लोधी के खेत से सेवक लोधी के खेत तक, सड़क का तीसरा हिस्सा सेवक लोधी के खेत से खंजु अहिरवाल के घर तक, सड़क का चौथा हिस्सा खंजु अहिरवाल के घर से कोमल काछी के खेत तक और सड़क का पांचवा हिस्सा कोमल काछी के खेत से बरखेड़ा टोला स्कूल तक बनाया गया है । सड़क के हर एक हिस्से की लंबाई 553 मीटर है और इसके एक हिस्से की लागत करीब 15 लाख रूपए है जो भुगतान की जा चुकी है ।

2.5 किलोमीटर की बजरी सड़क बनाने में फूंक दिए 91 लाख 50 हजार रूपए
हरदुआजामशा ग्राम पंचायत स्थित गौ अभ्यारण के लिए बनाए गई सड़क को पांच हिस्सो में बांटा गया और हर एक हिस्से की लंबाई 553 मीटर तय की गई और सड़क के एक हिस्से के निर्माण की लागत करीब 15 लाख रूपए है जो भुगतान की जा चुकी है । मतलब ढाई किलोमीटर की बजरी सड़क की कुल लागत 75 लाख रूपए है । इसमें 16 लाख 50 हजार रूपए से बनने वाली पुलियों का खर्च शामिल नहीं है। अगर इस राशि को सड़क निर्माण में कुल खर्च को देखें तो यह 91 लाख 50 हजार रूपए हो जाती है। इस पूरी राशि का भुगतान श्री बालाजी कंट्रक्शन हटा को किया गया । यह कंपनी केंद्रीय मंत्री के खासम खास और दमोह जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल की बताई है ।

Related posts

मध्यप्रदेश: Global Investors Summit 2023: प्रधानमंत्री मोदी बोले- एमपी गजब है, अजब है और सजग भी है।

Nishpaksh

सड़क दुर्घटना का शिकार दो आरक्षक की मौत, तीन घायल

Nishpaksh

एम एच संस्था ने एक हजार पौधों का किया रोपण

Nishpaksh

Leave a Comment