Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्यप्रादेशिकराजधानीराजनीति

“राग भोपाली” का उद्घाटन करेंगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

                       गौहर महल में 27 से 30 दिसम्बर तक 4 दिवसीय जरी – जरद़ोजी और जूट शिल्प प्रदर्शनी

भोपाल – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रविवार 27 दिसम्बर को गौहर महल में “राग भोपाली” 2020 के तहत दोपहर 3.30 बजे जरी – जरद़ोजी और जूट के शिल्प और उत्पाद की चार दिवसीय प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे।

उल्लेखनीय है कि वोकल फॉर लोकल की कड़ी में भोपाल की प्रसिद्ध जरी – जरद़ोजी एवं जूट के उत्पाद की ब्रांडिंग करने एवं राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय ख्याति दिलाने के प्रयासों के क्रम में गौहर महल में जरी – जरद़ोजी एवं जूट के उत्पादों की प्रदर्शनी के साथ ही स्थानीय सांस्कृतिक गीत, नृत्य आदि की प्रस्तुति होगी। आयोजन में आगन्तुक भोपाल के स्वादिष्ट व्यंजनों का लुत्फ भी ले सकेंगे। इस प्रदर्शनी की खास विशेषता यह है कि जरी-जरद़ोजी और जूट उत्पादों को बनते हुए भी देखा जा सकेगा।

यह भी पढ़ें -: दमोह सहित इंदौर जबलपुर में बनेगी नई प्राइवेट यूनिवर्सिटी, शिवराज कैबिनेट ने दी मंजूरी

राग भोपाली की थीम पर गौहर महल से ज़री-ज़रदोज़ी और जूट से बनी वस्तुओं को अंतर्राष्ट्रीय पहचान और बाजार दिलाने के लगातार प्रयास जारी हैं। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने गौहर महल पहुँचकर तैयारियों का जायजा लिया।

जिले को आत्म निर्भर बनाने और जरी-जरदोजी एवं जूट शिल्प के समग्र विकास के उद्देश्य से “राग भोपाली” का आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम के सह आयोजनकर्ता संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम होंगे। हस्त शिल्प को अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाने के लिए राग- भोपाली के नाम से अब नए ब्रांड की शुरुआत भी होगी। प्रधानमंत्री के वोकल फॉर लोकल की अवधारणा के अनुरूप मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी हर जिले को आत्मनिर्भर बनाने के लिए इस तरह की मजबूत पहल करने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें -: शिवराज सरकार ने युवाओं और किसानों रियायती दर पर मिलने वाले कर्ज बंद किए
                           

                             “राग – भोपाली में दिल्ली और मुंबई से एक्सपोर्टर्स को भी बुलाया गया है” 

कलेक्टर श्री लवानिया ने बताया कि भारत सरकार के कपड़ा मंत्रालय ने भोपाल को जरी -जरदोजी के लिए क्लस्टर बनाने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि वोकल फॉर लोकल के लिए भोपाल की इस पहचान को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने और नया बाजार उपलब्ध कराने की दृष्टि से यह महत्वपूर्ण कदम है।

Related posts

परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम के तहत छात्रो को सीएम शिवराजसिंह ने कही यह बात

Admin

कम समय में अधिक कर गए ‘‘मोनू भैया’’ सबके ह्दय में सदैव रहेंगे याद, स्व.मणिनागेन्द्र सिंह पटेल ‘‘मोनू भैया’’ की स्मृति में आयोजित श्रृद्धांजलि सभा

Nishpaksh

दमोह सहित इंदौर जबलपुर में बनेगी नई प्राइवेट यूनिवर्सिटी, शिवराज कैबिनेट ने दी मंजूरी

Nishpaksh

Leave a Comment