Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्यग्रामीण भारतघटनाक्रमप्रादेशिकराजधानीराजनीति

महिला सुरक्षा के लिये केवल कानून पर्याप्त नहीं, समाज के दृष्टिकोंण में भी बदलाव जरूरी – ऊर्जा मंत्री

nishpaksh samachar
सार्वजनिक परिवहन में महिला सुरक्षा विषय पर कार्यशाला सम्पन्न

 

ग्वालियर – प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा है कि महिला सुरक्षा के लिये केवल कानून ही पर्याप्त नहीं है बल्कि समाज के दृष्टिकोंण में भी बदलाव आवश्यक है। महिलाओं की सुरक्षा के लिये हमें कड़े कानूनों का पालन सुनिश्चित करने के साथ-साथ समाज की भागीदारी भी सुनिश्चित करनी होगी। ऊर्जा मंत्री ने सार्वजनिक परिवहन में महिला सुरक्षा विषय पर आयोजित कार्यशाला में मुख्य अतिथि के रूप में यह बात कही है। कार्यशाला में परिवहन आयुक्त मुकेश जैन, अपर परिवहन आयुक्त अरविंद सक्सेना, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी उपस्थित थे।

परिवहन विभाग द्वारा शुक्रवार को भारतीय पर्यटन एवं प्रबंधन संस्थान सिटी सेंटर में चालक एवं परिचालकों के लिये आयोजित कार्यशाला में सार्वजनिक परिवहन में उत्कृष्ट कार्य करने वाले चालक एवं परिचालकों को भी सम्मानित किया गया। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि समाज में अच्छा कार्य करने वालों को प्रोत्साहित करना होगा और समाज को जवाबदेह भी बनना होगा। महिला सुरक्षा के लिये सरकार ने कानून तो बनाए हैं। कानून के पालन के साथ-साथ हमें अपने और अपने समाज के दृष्टिकोंण को भी बदलने की दिशा में कार्य करने की आवश्यकता है।

यह भी पढ़ें -: सीएम हेल्पलाइन में लापरवाही करने पर संयुक्त कलेक्टर से मांगा स्पष्टीकरण 

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि परिवहन विभाग द्वारा सार्वजनिक परिवहन में महिला सुरक्षा विषय पर जो कार्यशाला का आयोजन किया गया है यह एक सराहनीय पहल है। इस तरह की कार्यशालायें पूरे प्रदेश में आयोजित हों तथा समाज को महिला सुरक्षा के कार्य में जोड़ने का प्रयास किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि महिला सुरक्षा के मामले में अगर कोई व्यक्ति दोषी पाया जाता है तो उसके विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें -: तानसेन समारोह पहुँचे राज्य सभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, कलाकारों का किया सम्मान

परिवहन आयुक्त श्री जैन ने कहा कि लोक परिवहन में महिला सुरक्षा के लिये आधुनिक तकनीक का उपयोग विभाग द्वारा किया जा रहा है। इससे इमरजेंसी रिस्पोंस सिस्टम लगाने, लोक परिवहन में कैमरे लगाने के साथ-साथ बस स्टॉपों पर भी कैमरे लगाए जा रहे हैं। इसके साथ ही अन्य तकनीकों से भी सुरक्षा के संबंध में कार्रवाईयाँ की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि इन सबके बाद भी हमें समाज के सहयोग की नितांत आवश्यकता है।

यह भी पढ़ें -: अजीबो गरीब जुर्माना- भैस ने किया गोबर, मालिक पर दस हजार रूपये का जुर्माना 

कार्यशाला में अपर परिवहन आयुक्त अरविंद सक्सेना ने भी अपने विचार रखे। उन्होंने कार्यशाला के आयोजन के उद्देश्य और महिला सुरक्षा के क्षेत्र में विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों के संबंध में विस्तार से अपनी बात रखी। पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने कहा कि महिला सुरक्षा के लिये पुलिस विभाग द्वारा पहले से कार्य किया जा रहा है। नए वर्ष में सार्वजनिक परिवहन में महिला सुरक्षा के मुद्दे को हम अपने एजेण्डे में सर्वोच्च प्राथमिकता देंगे और इस पर वर्ष भर कार्य करेंगे।

यह भी पढ़ें -:  बेटे की हरकतों से परेशान पिता ने अपनी आधी संपति पालतू श्वान के नाम की  

कार्यशाला का शुभारंभ बेटी पूजन एवं दीप प्रज्ज्वलन कर किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में सहायक परिवहन अधिकारी रिंकू शर्मा ने कार्यशाला के उद्देश्य के साथ-साथ अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम के अंत में उत्कृष्ट कार्य करने वाले चालकों और परिचालिकाओं को प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया गया।

Related posts

विभाग ने एक ही वन क्षेत्र के दो जिला वन अधिकारी को किया निलंबित

Nishpaksh

मातृवन्दना योजना में लापरवाही पर कलेक्टर ने की बड़ी कार्यवाही

Nishpaksh

हमें अपने आप को चौकन्ना रखने की जरूरत हैं, मास्क लगाएं, सावधानी में कमी नही होनी चाहिए -प्रहलाद पटैल

Nishpaksh

Leave a Comment