Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्यक्राइमग्रामीण भारतघटनाक्रमताज़ा खबरप्रादेशिकराजधानी

मंगल रहा अमंगल: सड़क हादसे में 13 की मौत

nishpaksh samachar

मंगलवार का दिन ग्वालियर के लिए अमंगल साबित हुआ और एक बड़ा सड़क हादसा हो गया है। मंगलवार की सुबह बस और ऑटो में भीषण भिड़ंत हो गई, इस हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई है। वहीं राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिवार वालों के लिये आर्थिक मदद देने का एलान किया है।

ग्वालियर :- मंगलवार की सुबह दिलदहला देने वाली एक खबर मध्यप्रदेश के ग्वालियर से आई। जहां सुबह सड़क हादसा हो गया। जिसमे करीब 13 लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि हादसे में मरने वाले सभी लोग ऑटो सवार है। घटना पुरानी छावनी थाना क्षेत्र स्थित गंगा मालनपुर की है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि ऑटो बामोर की तरफ जा रहा था और बस ग्वालियर की ओर आ रही थी। मृतकों में अधिकांश महिलाएं हैं। मौके पर राहत और बचाव कार्य जारी है। स्थानीय लोगों की भीड़ भी घटना स्थल पर जमा है।

टक्कर इतनी जबरदस्त है कि ऑटो बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। वहीं, आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर दिया है। प्रशासन के तमाम वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुँच गए हैं। साथ ही भीड़ को नियंत्रित करने की कोशिश में लगे हैं। घायलों का हाल जानने के लिए उर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर भी अस्पताल पहुंचे हैं।

बताया जा रहा है कि बस कथित रूप से मुरैना जा रही थी तभी सुबह सात बजे यह हादसा हुआ। शुरुआती रिपोर्टों के मुताबिक हादसा इतना भीषण था कि मौके पर ही 13 लोगों की मौत हो गई जबकि गंभीर रूप से घायलों को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया। मृतक में महिलाओं सहित ऑटो रिक्शा का ड्राइवर शामिल है।

मुख्यमंत्री ने हादसे में मारे गए लोगों के परिवार वालों को चार लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। ग्वालियर के पुलिस अधीक्षक अमित संघी ने बताया कि आंगनवाड़ी केंद्र में कुक के रूप में काम करने वाली महिलाएं काम पूरा करने के बाद घर लौट रही थीं तभी यह दुखद हादसा हो गया

Related posts

दमोह उपचुनाव 2021– भाजपा खेमे में स्थानीय और बाहरी को लेकर हाथापाई

Nishpaksh

कोविड-19 से लड़ने आगे आए नगर के युवा, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सहित अन्य चिकित्सकीय सुविधाओं के लिए कर रहे जी तोड़ मेहनत

Nishpaksh

वायरल विडिओ से पुलिस पहुंची गांजे के बगीचा तक, बीट गार्ड ने सरकारी बंगले के पीछे लगा रखे थे बड़े-बड़े पेड़

Nishpaksh

Leave a Comment