Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
अन्य

मध्यप्रदेश: उत्तर भारत में वेस्टर्न डिस्टरबेंस से प्रदेश में 3 दिन बाद बढ़ेगा सर्दी का सितम

मध्यप्रदेश में लोगो गुरुवार को कड़ाके की ठंड से थोड़ी राहत मिली है। लेकिन प्रदेश के कई जिलें जैसे कि ग्वालियर-चंबल संभाग में कोहरे का असर ज्यादा है। वहीं, कुछ जगह पर विजिबिलिटी 50 से 200 मीटर के बीच है। प्रदेश में बुधवार को सभी शहरों में रात और दिन के पारे में मामूली बढ़त देखने को मिली। मौसम विभाग के मुताबिक, हाल ठंड से राहत है, परंतु आने वाले 3 दिन के बाद उत्तर भारत में मौसम में आए बदलाव की वजह से प्रदेश में कड़ाके की ठंड का दौर शरू हो सकता है।

14 जनवरी से कड़ा के की ठंड के आसार

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर भारत में एक और वेस्टर्न डिस्टरबेंस पहुंच रहा है। जो काफी स्ट्रॉन्ग है। इस कारण दिल्ली एनसीआर, पंजाब, हरियाणा में बारिश होने की संभावना है। वही, उत्तर भारत के कई राज्यों में तेज ठंड पड़ने और पहाड़ी विस्तारो में बर्फभारी होने के आसार है। इसका असर प्रदेश के कई जिलों में देखने को मिल सकता है। एक अनुमान के मुताबिक, कई इलाको में 14 जनवरी से दिन में कोहरा और रात में कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना है।

भोपाल में जनवरी में पहली बार पारा 27 डिग्री के पार

हाल भोपाल शहर में लोगों को कड़ाके की ठंड से राहत है। यहां पर दिन का तापमान 27 डिग्री के पार पहुंच गया। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक, हवा का रुख बदलने से भोपाल में मौसम बदला है। उत्तर से सर्द हवा के आने का सिलसिला भी थम गया। इस कारण तापमान में बढ़ोतरी हुई है। उत्तर भारत में पहुंचे वेस्टर्न डिस्टरबेंस के कारण हवा का रुख बदला है। अगले दो-तीन दिन ऐसा ही मौसम रहनें की आसार है।

Related posts

राजस्व अधिकारी-सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत संचालित उचित मूल्य दुकानों का सतत् निरीक्षण करते रहे- कलेक्टर चैतन्य

Nishpaksh

04 उर्वरक विक्रेताओं के सेंपल मिले अमानक, जिले में क्रय-विक्रय, भंडारण एवं स्थानांतरण पर रोक

Nishpaksh

कलेक्टर ने 2 व्यक्तियों को सेन्ट्रल जेल सागर में 3-3 महीने रखने दिये निर्देश

Nishpaksh

Leave a Comment