Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
राजनीति

भाजपा कोर कमेटी की बैठक, गहलोत सरकार को सदन से सड़क तक घेरने की रणनीति पर होगा मंथन

गहलोत सरकार के 4 साल पूरे होने के विरोध में सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों में जनाक्रोश यात्रा का आयोजन कर चुकी भाजपा अब 23 जनवरी से शुरू हो रहे राजस्थान विधानसभा के बजट सत्र में गहलोत सरकार को सदन से लेकर सड़क तक घेरने की रणनीति बनाने में जुटी हुई है। प्रदेश में 11 महीने के बाद होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रदेश भाजपा गहलोत सरकार के खिलाफ आक्रमक रुख अख्तियार करने और सरकार से लेकर मंत्री-विधायकों को घेरने की रणनीति बनाने के लिए आज प्रदेश भाजपा कोर कमेटी की बैठक बुलाई गई है।

शाम 5 बजे भाजपा कार्यालय में होने वाली कोर कमेटी की बैठक बीजेपी अध्यक्ष सतीश पूनिया की अध्यक्षता में होगी जिसमें प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल सहित कोर कमेटी के सदस्य इस बैठक में शामिल होंगे।
पार्टी की एकजुटता पर भी रहेगा जोर
सूत्रों की माने तो भले ही प्रदेश में 11 महीने के बाद होने वाले विधानसभा चुनाव और बजट सत्र में गहलोत सरकार को घेरने को रणनीति के तहत कोर कमेटी की बैठक बुलाई गई हो लेकिन बैठक में कहीं न कहीं पार्टी नेताओं की एकजुटता पर जोर देने की बात भी होगी। पार्टी में एकजुटता के लाख दावे किए जाते हों लेकिन कहीं न कहीं अंदर खाने गुटबाजी और खींचतान चरम पर है। ऐसे में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सभी नेताओं को एकजुटता के साथ गहलोत सरकार के खिलाफ मुखर होने के निर्देश भी कोर कमेटी की बैठक में दिए जाएंगे।दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे खेमे से जुड़े कई नेता लंबे अरसे से पार्टी के कार्यक्रमों और गतिविधियों से लगातार दूर रहे हैं, जिसे लेकर शिकायतें दिल्ली भी पहुंची थी और उसी के बाद पार्टी की केंद्रीय नेतृत्व ने पहली बार दिल्ली में भाजपा कोर कमेटी की बैठक बुलाई थी और सभी को एकजुट रखने के निर्देश दिए थे।
बताया जाता है कि कोर कमेटी की बैठक में पेपर लीक मामला और कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर जहां सदन से सड़क तक गहलोत सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा होगी तो वहीं पार्टी के आगामी कार्यक्रमों को लेकर भी रूपरेखा तैयार होगी। बताया जाता है कि जनाक्रोश यात्रा के समापन के बाद विधानसभा के बजट सत्र के दौरान ही बीजेपी कोई बड़ी जनसभा का आयोजन जयपुर में करा सकती है इसको लेकर भी मंथन होगा। इसमें पार्टी केंद्रीय नेतृत्व सहित कई अन्य नेता भी शामिल होने की बात कही जा रही है।
वहीं कोर कमेटी की बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर सभी की नजर रहेगी। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे लंबे समय से पार्टी कार्यक्रमों से दूरी बनाए हुए हैं। हालांकि जयपुर में जनाक्रोश यात्रा की लॉन्चिंग के दौरान वसुंधरा राजे जेपी नड्डा के साथ मंच पर नजर आईं थी लेकिन उसके बाद हुए कार्यक्रमों से उनकी दूरी बनी हुई थी। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या वसुंधरा राजे आज होने वाली कोर कमेटी की बैठक में शामिल होंगे या नहीं?

Related posts

ईओडब्ल्यू सागर की कार्रवाई

Nishpaksh

सही ऐतिहासिक तथ्य नई पीढ़ी के सामने पेश करें: केंद्रीय गृह मंत्री

Nishpaksh

ब्लॉक स्तरीय मैनेजमेंट ग्रुप की पहली बैठक में ही कमियां आई सामने, कांग्रेस नेता गौरव पटेल ने खड़े किए सवाल

Nishpaksh

Leave a Comment