Nishpaksh Samachar
ताज़ा खबर
क्राइम

कंझावला केस: पुलिस को मिली सभी 5 आरोपियों की 3 दिन की कस्टडी, लड़की के परिवार ने की निष्पक्ष जांच की मांग

दिल्ली के कंझावला इलाके में 31 दिसंबर को कार सवार 5 युवकों ने 20 साल की एक युवती को टक्कर मार दी. हादसे के बाद युवक कार लेकर भागने लगे. लड़की कार के नीचे फंसी रही और करीब 4 किलोमीटर तक सड़क पर घिसटती रही. पुलिस के मुताबिक, उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

राजधानी दिल्ली में रविवार को 20 साल की लड़की को करीब 4 किमी तक सड़क पर घसीटने के मामले में दिल्ली पुलिस ने आज पांचों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने सभी आरोपियों को 3 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. सागर प्रीत हुड्डा स्पेशल सीपी ने बताया, ‘कंझावला पुलिस क्षेत्र में युवती का शव मिलना दुखद है. जांच के बाद 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मेडिकल बोर्ड बनाया जा रहा है. उसकी रिपोर्ट के आधार पर आगे की जांच होगी. फोरेंसिक और लीगल टीम की मदद ली जा रही है.’

स्पेशल सीपी ने आगे बताया, ‘पुलिस लड़की के परिवार के संपर्क में है. जांच के अपडेट्स उनसे शेयर किए जा रहे हैं. अभी आरोपियों की 3 दिन की कस्टडी मिली है. उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 279, 304, 304A, 120A के आधार पर एफआईआर दर्ज है. पूछताछ के बाद चार्जशीट सब्मिट की जाएगी. फिजिकल ओरल एविडेन्स, सीसीटीवी समेत सभी सबूतों के आधार पर आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिलाई जाएगी.’

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, दिल्ली के कंझावला इलाके में 31 दिसंबर को कार सवार 5 युवकों ने 20 साल की एक युवती को टक्कर मार दी. हादसे के बाद युवक कार लेकर भागने लगे. लड़की कार के नीचे फंसी रही और करीब 4 किलोमीटर तक सड़क पर घिसटती रही. पुलिस के मुताबिक, उसकी मौके पर ही मौत हो गई. घसीटे जाने के कारण उसके पैर भी शरीर से अलग हो गए थे. पुलिस ने रविवार को ही पांचों युवकों को गिरफ्तार किया था.

घिसटने से हड्डियां टूटीं, मांस निकल आया

सोशल मीडिया पर जो CCTV फुटेज सामने आया है, उनमें कार के नीचे युवती को घिसटते देखा जा सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चार किमी तक युवती कार में फंसी रही. घसीटे जाने की वजह से युवती की पीठ और सिर की हड्डियां बुरी तरह से घिस गईं. मांस निकल गया। दोनों पैरों की हड्डियां भी टूट गईं, जिससे उसकी बेहद दर्दनाक मौत हुई. लड़की के सारे कपड़े फट गए और शरीर से अलग हो गए थे. जब उसकी लाश मिली तो उसके शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं बचा.

इवेंट मैनेजमेंट कंपनी में काम करके लौट रही थी लड़की

पीड़ित लड़की 23 साल की थी और दिल्ली के अमन विहार में रहती थी. परिवार में मां और दो भाई और दो बहनें हैं. वह परिवार में अकेली कमाने वाली थी. दोनों भाई छोटे हैं और एक बहन की शादी हो चुकी है. लड़की एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी में काम करती थी. न्यू ईयर पर एक इवेंट में काम के लिए घर से निकली थी. ऐसा बताया कि शनिवार-रविवार की रात वह ऐसे ही एक फंक्शन खत्म कर स्कूटी से अपने घर जा रही थी. उसी दौरान आरोपी पांचों युवक भी अपनी कार बेलेनो से उसी रास्ते पर थे. जिसके बाद लड़की को कार से घसीटने की घटना सामने आई.

परिवार पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं

परिवार ने कहा- यह रेप के बाद मर्डर का मामला है. उसके कपड़े ऐसे ही नहीं फट सकते है. जब वह मिली, उसके शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था. हम चाहते हैं कि इस मामले की पूरी जांच हो. पीड़ित लड़की के मामा प्रेम सिंह ने कहा कि यह केस निर्भया जैसा है. हम न्याय चाहते हैं. इस मामले में निष्पक्ष जांच हो.

Related posts

विभाग ने एक ही वन क्षेत्र के दो जिला वन अधिकारी को किया निलंबित

Nishpaksh

सड़क दुर्घटना का शिकार दो आरक्षक की मौत, तीन घायल

Nishpaksh

अवैध अतिक्रमण को वैध करने की तैयारी, नगर पालिका दमोह का दोहरा चरित्र

Nitin Kumar Choubey

Leave a Comment